स्वर्ण व्यापारी कारीगर चंपत

जोधपुर, शहर के भीतरी क्षेत्र स्थित राजदादी अस्पताल के पास में एक स्वर्ण व्यापारी का उसके कारीगर सौ ग्राम सोना लेकर चंपत हो गए। पीडि़त ने इस बारे में सदर बाजार थाने में रिपोर्ट दी। नामजद बंगाली सुनारों की अब तलाश की जा रही है। आस पास लगे सीसीटीवी फुटेज से कारीगरों का पता लगाया जा रहा है।

सदर बाजार थानाधिकारी बंशीलाल वैष्णव ने बताया कि घटना में सूरसागर स्थित रिडियाफांटा निवासी ईश्वरचंद सोनी पुत्र अमरचंद ने रिपोर्ट दी। इसमें बताया कि उसकी एक स्वर्ण कारोबार की दुकान सोनारों का बास रोड स्थित राजदादी अस्पताल के पास में है। जहां पर पश्चिमी बंगाल के दो कारीगर हजरत अली पुत्र नूर अली और आशिक पुत्र सलीम मंडल काम करते थे। दुकान पर ही रहते थे।

Check deal’s before over👆

22 जून को यह लोग दुकान से अचानक गायब हो गए। मोबाइल पर बात करने का प्रयास किया गया। मगर उनके फोन बंद आए। बाद में दुकान में तलाशी किए जाने पर पता लगा कि वहां से तकरीबन सौ ग्राम सोना नदारद है। थानाधिकारी ने बताया कि प्रकरण दर्ज किया गया है। कारीगरों का पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है।

>>> एशिया के टॉप टेन शहरों में भारत से सिर्फ जोधपुर और दिल्ली शामिल

Shop now 👆