डॉ.अर्चना शर्मा खुदकुशी मामले की स्पेशल कमेटी करे जांच- शेखावत

डॉ.अर्चना शर्मा खुदकुशी मामले की स्पेशल कमेटी करे जांच- शेखावत

जोधपुर, केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने लालसोट (दौसा) की डॉ. अर्चना शर्मा की खुदकुशी मामले के हरेक पहलू की स्पेशल कमेटी द्वारा बारीक जांच कराने की मांग की। शेखावत ने कहा कि यह खुदकुशी जरूर है, मगर मैं इसे हत्या कहूंगा। परोक्ष रूप ये हत्या उन लोगों ने की है, जिन्होंने सत्ता और प्रशासन का दुरुपयोग कर दुरूह परिस्थिति निर्मित की।

सिलसिलेवार ट्वीट कर केंद्रीय मंत्री ने कहा कि अभी ज्यादा दिन नहीं हुए हैं कोविड के दौरान डॉक्टरों ने अपनी जान दांव पर डालकर हमारी जीवन रक्षा की। यदि राजनीति और प्रशासन उन्हें आरोपित करने लगे तो वे इलाज कैसे करेंगे? शेखावत ने कहा कि यह अमानवीयता ही सीमा लांघना है कि कर्तव्य पालन कर रही एक महिला चिकित्सक को प्रसूता की मौत का अपराधी साबित करने का प्रयास हुआ। एक गोल्ड मैडलिस्ट डॉक्टर को इतना प्रताडि़त किया गया है कि उसे आत्महत्या ही अपनी बेगुनाही का सबूत लगी। उन्होंने कहा कि डॉ. अर्चना शर्मा का सुसाइड नोट आंखें नम कर देने वाला है। उन्होंने लिखा है, बेगुनाह डॉक्टरों को प्रताडि़त न करें। वे ये भी लिखती हैं, मेरे बच्चों को मां की कमी महसूस न होने देना।

मुख्यमंत्री के लिए शेखावत ने कहा कि गहलोतजी आपको ये सुसाइड नोट पढऩा चाहिए और अपनी पार्टी और पुलिस प्रशासन का नहीं न्याय का पक्ष चुनना चाहिए। इस घटना के हरेक पहलू की स्पेशल कमेटी द्वारा बारीक जांच अनिवार्य है। पुलिस की पिटाई से आहत होकर खा ली थी सल्फास।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें – http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews