organizing-ram-katha-and-sahastra-chandi-yagya-on-navratra

नवरात्रा पर राम कथा व सहस्त्र चंडी यज्ञ का आयोजन

जोधपुर,नवरात्र के अवसर पर राम कथा सहस्त्र चंडी यज्ञ का आयोजन बावड़ी के केलावा स्थित रघुवंशपुरम आश्रम और केशवप्रिया गौशाला में लंबी बीमारी से पीड़ित गोवंश के कष्टों के निवारण हेतु किया जा रहा है।

मानस वक्ता संत मुरलीधर ने बताया की वर्तमान में गौ माता पर जो संकट है इसके लिए जगत जननी मां जगदंबा से प्रार्थना करेंगे, हेमा आप ही इस जगत की माता हो और आप ही गौ माता के इस कष्टों का निवारण कर सकती हैं। इस यज्ञ में लगातार नौ दिनों तक नो यज्ञ वेदी निरंतर आहुतिया दी जाएगी। इस अवसर पर राम कथा का आयोजन भी आरंभ हुआ। प्रथम दिन की राम कथा में व्यास पीठाधीश्वर मानस वक्ता संत मुरलीधर ने गोस्वामी तुलसीदास द्वारा रचित मानस वंदना क्रम में रामकथा के महत्व को श्रोताओं के समक्ष रखा।

उन्होंने बताया तुलसी जी ने रामकथा के आरंभ में गुरु की वंदना की और गुरु ही हमारा मन संसार विष्णु से हटाकर भगवान परमात्मा की भक्ति की ओर ले जाता है। हमें केवल परमात्मा का भजन करने के लिए मिला है इस अवसर पर कई भजनों और प्रसंगों के माध्यम से संत ने मानस का महत्व जीवन का सार श्रोताओं के समक्ष रखा। नवरात्र के अवसर पर शाम को गरबा का आयोजन भी होगा। राम कथा में देश के विभिन्न शहरों से अनेक भक्त जनों का आने का सिलसिला आरंभ है। केलावा बावड़ी ओसियां जोधपुर और आसपास के गांव से सैकड़ों भक्त राम कथा सुनने सहस्त्र चंडी यज्ञ का दर्शन करने के लिए आ रहे हैं। प्रथम दिवस की राम कथा के अवसर पर स्वर्गीय सीए बीएल काबरा की पावन स्मृति में संपत कुमार काबरा, श्रीकुमार काबरा, घनश्याम भूतड़ा, आनंदी लाल शर्मा, रामस्वरूप शर्मा, रमेश मालानी, पूर्व मंत्री शंभू सिंह खेतासर, गोपाल सिंह भलासरिया सहित अनेक भक्त उपस्थित थे। रामकथा के दौरान मंच का संचालन चंदन सिंह ने किया।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें-http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews