कोरियर कम्पनी के ऑफिस से लूट करने वाला मास्टर माइण्ड गिरफ्तार

कोरियर कम्पनी के ऑफिस से लूट करने वाला मास्टर माइण्ड गिरफ्तार

  • 15 हजार का ईनामी अपराधी राकेश गिरफ्तार
  • राईका बाग एरिया मे 10 महिने पहले कोरियर कम्पनी से लूट का मास्टर माइण्ड था
  • जलेबी और फास्ट फूड का ठेला लगाने लगा था

जोधपुर,कोरियर कम्पनी के ऑफिस से लूट करने वाला मास्टर माइण्ड गिरफ्तार।शहर की उदयमंदिर पुलिस ने कोरियर कंपनी में लूट कर फरार चल मास्टर माइंड को दस महिने बाद गिरफ्तार कर लिया।उस पर 15 हजार का इनाम घोषित हो रखा था। आरोपी राकेश गडरा रोड बाड़मेर,प्रतापनगर जोधपुर मे लुट के प्रकरणों व अन्य थानों में भी वांछित था। गिरफ्तारी से बचने के लिए आरोपी छतीसगढ़, बिहार,गुजरात,महाराष्ट्र व अन्य राज्यों में जाकर जलेबी व अन्य फास्ट फूड का ठेला चलाने लगा था। आरोपी गिरफ्तारी से बचने के लिए मोबाईल में इन्टरनेट कॉलिग का उपयोग करता था तथा अन्य लोगों से वाईफाई से नेट यूज करता था। पुलिस उपायुक्त डॉ अमृता दुहन पुलिस ने बताया कि दस महिने पहले कोरियर कंपनी में लूट के वांछित 15 हजार के इनामी आरोपी जालेली चंपावता डांगियवास निवासी राकेश पुत्र उदाराम विश्रोई को गिरफ्तार किया गया है।

यह भी पढ़ें – जिले की 8 सीटों पर भाजपा,2 पर कांग्रेस आगे

यह था मामला 
थानाधिकारी प्रेमदान रत्नू ने बताया कि बापूनगर झालामंड निवासी प्रिंस जोशी ने रिपोर्ट दी थी। इसमेें बताया कि डिलीवरी लिमिटेड (कूरियर) कम्पनी बैंक कोलोनी राईकाबाग जोधपुर में इस साल 5 फरवरी की शाम करीब 8.30 बजे कार्य कर रहे थे। तब एक मोटर साइकिल पर तीन व्यक्ति सवार होकर आये तथा एक व्यक्ति मोटर साइकिल लेकर हमारे कूरियर कम्पनी के बाहर की साइड खड़ा रहा साथ में आये दो व्यक्तियों ने कम्पनी के अफिस द्वार से प्रवेश किया तथा हमारे पास आये उस वक्त में सीट पर बैठे कैश काउंट का कार्य कर रहा था तथा हैल्पर पार्सल अलग कर रहा था फिर उन्होने मेरे व हैल्पर पर पिस्टल तानी दोनों के हाथो में पिस्टल थी आते ही मुझे कहा कि खडा हो पैसे कहा है मैं घबरा गया मुझे कहा हाथ ऊपर कर व हम दोनों को आफिस के फर्श पर बैठा दिया। जाते समय 2.68 लाख रुपए लूट कर ले गए। दोनो आफिस के अन्दर थे कि आफिस का प्रवेश द्वार बाहर से बन्द कर कुंडी लगा दी वे लोग रुपये लेकर मोटरसाइकिल पर भाग गए। थानाधिकारी प्रेमदान रत्नू ने बताया कि अभियुक्त राकेश के सह अभियुक्त विष्णु,राहुल,आसुराम को पूर्व में गिरफ्तार किया जा चुका था। आरोपी राकेश राइका बाग मे घटना करने बाद पुलिस थाना गडरा रोड बाडमेर में रहागीर से पैसो की लूट की तथा पुलिस थाना प्रतानगर एरिया में घर में घुस कर लूट की उसके बाद राकेश फरार हो गया। मुल्जिम बार बार अपने स्थान बदलता रहता था।

यह भी पढ़ें – जिले की 7 सीटों पर भाजपा,3 पर कांग्रेस आगे

दूसरे प्रदेशों में करता रहा काम 
मुल्जिम फरारी के समय बिहार, गुजरात,महाराष्ट्र में रहकर अलग अलग कार्य करता था। मुल्जिम अपने पास मोबाईल फोन से केवल इन्टरनेट कॉलिग का उपयोग करता तथा कॉलिंग के लिए वाई फाई नेट का उपयोग ही करता था अपने पास कोई सिम नहीं रखता था तथा 15-20 दिन में जगह बदलता रहता था। पुलिस टीम द्वारा तकनीकी तन्त्र व मुखबीर के माध्यम से तलाश के प्रयास किये गये तो मुल्जिम के छतीसगढ में होने की जानकारी प्राप्त हुई जिस पर थाना से पुलिस टीम द्वारा दस्तायाब किया गया। मुल्जिम छतीसगढ मे जलेबी का ठेला लगाकर कार्य कर रहा था। मुल्जिम आले दर्जे बदमाश,वाहन चोर व लुटेरा प्रवृति का व्यक्ति है। मुल्जिम घटना करते समय चोरी की पावर बाइको का उपयोग करता था।

दूरदृष्टि न्यूज़ की एप्लीकेशन यहाँ से इनस्टॉल कीजिए – https://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews

 

Similar Posts