सालोड़ी नदी से खनन को लेकर हिस्ट्रीशीटर की जान की धमकी पीडि़त पर हमला

सालोड़ी नदी से खनन को लेकर हिस्ट्रीशीटर की जान की धमकी
पीडि़त पर हमला

  • अवैध बजरी खनन
  • हिस्ट्रीशीटर पहले भी हत्याकांड में नामजद रहा

जोधपुर, शहर के आस पास की नदियों से अवैध खनन कर बजरी ले जाने वाले माफिया काफी सक्रिय हो रखे हैं। बजरी के साथ मिट्टी तक ले जाते हैं। कुछ अरसे पहले सालोड़ी में इसी के चलते एक हत्याकांड भी हो रखा है। अब इसी हत्याकांड में नामजद रहे हिस्ट्रीशीटर ने युवक को नदी पर नहीं आने के लिए धमकाया है। पीड़ित ने अपने साथ 10 मार्च को हुई मारपीट का आरोप भी लगाया है।

अदालत से मिले इस्तगासे पर राजीव गांधी नगर पुलिस ने मामला दर्ज किया है। फिलहाल इसमें अनुसंधान किया जा रहा है। राजीव गांधी नगर पुलिस ने बताया कि सालोड़ी गांव में अवैध रूप से बजरी का खनन पहले से ही होता आया है। महेंद्र सिंह नाम के शख्स का इसके चलते मर्डर हो रखा है। तब कई लोगों को पकड़ा गया था। माइनिंग विभाग की तरफ से बाद में चौकी भी स्थापित की गई थी। यहां पर रॉयल्टी के चलते खनन वैध भी था, मगर बाद में खनन पर रोक लगी थी। जिसके बाद से लोगबाग सालोड़ी नदी और आस पास के खेतों से अवैध रूप से बजरी का खनन कर ले जाते हैं।

सालोड़ी गांव के रहने वाले सहीराम विश्रोई पुत्र बगड़ाराम विश्रोई की तरफ से मामला दर्ज करवाया गया है। इसके अनुसार 10 मार्च की रात को घंटियाला के रहने वालेे मेहबूब खां आदि ने सालोड़ी नदी पर नहीं आने के लिए धमकाया था। उसे जान की धमकी दिए जाने के साथ हमला किया गया। पुलिस के अनुसार वक्त सूचना पर पुलिस वहां पहुंची थी। तब ना तो पीडि़ता मिला और ना ही आरोपी। अब पीडि़त सहीराम विश्रोई की तरफ से हत्या प्रयास में केस दर्ज करवाया गया। अदालत से मिले इस्तगासे पर मेहबूब खां के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। मेहबूब खां थाने का हिस्ट्रीशीटर है। वह पहले भी महेंद्रसिंह हत्याकांड में नामजद रहा है। घटना में अब हैडकांस्टेबल नींबसिंह की तरफ से जांच की जा रही है। क्षेत्र में राजूराम नाम का शख्स भी अवैध बजरी कारोबार में लगा है।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें – http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews