caravan-of-youth-engaged-in-service-on-the-call-of-sdm

एसडीएम के आह्वान पर सेवा में जुटा युवाओं का कारवां

  • गौवंश की देखभाल में पीपाड़ शहर के युवाओं की अनुकरणीय पहल
  • जागरूकता अभियान से मिल रहा जन सहयोग

जोधपुर, लम्पी स्किन डिजीज की रोकथाम तथा गौवंश को इससे बचाने के लिए पीपाड़ शहर के युवाओं ने अनुकरणीय पहल करते हुए व्यापक सेवा कार्यों को हाथ में लिया है। इससे प्रेरित होकर अन्य क्षेत्रों के युवा भी आगे आ रहे हैं।

पीपाड़ शहर की उपखण्ड अधिकारी पद्मा चौधरी ने क्षेत्र में भ्रमण तथा बैठकों के दौरान क्षेत्र के युवाओं से अपील करते हुए कहा कि युवाओं को आगे आकर अपने क्षेत्र के गोवंश की रक्षा कर इन्हें इस रोग से बचाना चाहिए। यह युवाओं का अपने क्षेत्र के लिए सामाजिक फर्ज भी है।

युवाओं ने वाट्सएप ग्रुप बनाकर दिया सहयोग

उपखण्ड अधिकारी के आह्वान से प्रेरित होकर युवाओं ने त्वरित रूप से अपने स्तर पर वाट्सएप ग्रुप बनाकर स्वयं के स्तर पर वित्तीय सहायता राशि एकत्रित कर क्षेत्र के गोवंश की देखभाल एवं बचाव करने की दिशा में कार्य करना आरंभ कर दिया। इन युवाओं द्वारा ख़ासकर शहर के निराश्रित गौवंश एवं गौशालाओं के गौवंश को सैनिटाइज कर आइसोलेट करने के साथ ही उनकी समुचित देखभाल के प्रबंधों की दिशा में सराहनीय कार्य किए जा रहे हैं।

युवाओं की पहल और अनुकरणीय भागीदारी की सराहना करते हुए उपखण्ड अधिकारी चौधरी ने कहा कि इससे आम जन में प्रेरणा का संचार होगा तथा जनसहयोग प्राप्ति की दिशा में आशातीत सफलता सामने आ सकेगी। उन्होंने कहा कि लम्पी स्किन डिजीज के संक्रमण की इस कड़ी को तोड़ने के लिए हर स्तर पर हर जन सहयोग सहायक सिद्ध होगा।

एसडीएम ने किया गौशालाओं का निरीक्षण

जिला कलेक्टर हिमांशु गुप्ता के निर्देशानुसार पीपाड़ शहर के उपखण्ड अधिकारी पद्मा देवी चौधरी ने क्षेत्र की विभिन्न गौशालाओं का दौरा कर निरीक्षण किया और लम्पी स्किन प्रभावित क्षेत्रों में पशुपालकों को संक्रमित पशुओं के उपचार, स्वस्थ गौवंश को इनसे अलग रखने तथा लम्पी स्किन डिजीज की रोकथाम एवं बचाव के बारे में समझाईश की और विभिन्न स्थानों पर बैठकें लेकर व्यापक दिशा-निर्देश दिए।

ग्रामांचलों में बैठकें लेकर की चर्चा

उपखण्ड अधिकारी पद्मा देवी चौधरी ने शनिवार को क्षेत्र के गणमान्य नागरिकों,जनप्रतिनिधियों,भामाशाहों एवं आम जन के साथ लम्पी स्किन डिजीज जागरूकता अभियान के अंतर्गत संवाद स्थापित किया और इस बारे में विस्तार से चर्चा करते हुए गौवंश को इस डिजीज से बचाने के लिए जन सहयोग का आह्वान किया। उन्होंने बताया कि लंपी स्किन डिजीज की रोकथाम एवं बचाव के लिए प्रशासन सर्वोच्च प्राथमिकता के साथ काम कर रहा है। उन्होंने शनिवार को क्षेत्र की विभिन्न गौशालाओं का निरीक्षण किया और डिजीज से बचाव व रोकथाम के लिए किए जा रहे प्रयासों की जानकारी ली।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें- http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews