अमृत सरोवर प्रोजेक्ट में 75 सरोवरों को किया जाएगा विकसित-शेखावत

अमृत सरोवर प्रोजेक्ट में 75 सरोवरों को किया जाएगा विकसित-शेखावत

जोधपुर, केन्द्रीय जल शक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत ने कहा कि अमृत सरोवर प्रोजेक्ट प्रधानमंत्री का महत्वकांक्षी प्रोजेक्ट है इसके तहत प्रत्येक जिले में 75 सरोवरों को विकसित किया जाना है। जोधपुर में लगभग 140 से अधिक सरोवर को चिन्हित किया गया है। इस प्रोजेक्ट के तहत इन सरोवरों को विकसित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि क्लोजर की अवधि बढऩे के कारण उपलब्ध पानी का बेहतर तरीके से उपयोग किया जाए ताकि आमजन को गर्मी के मौसम में किसी प्रकार की परेशानी नहीं हो।

अमृत सरोवर प्रोजेक्ट में 75 सरोवरों को किया जाएगा विकसित-शेखावत

शेखावत शुक्रवार को जोधपुर के कलेक्ट्रेट सभागार में जलदाय विभाग के आला अधिकारियों की बैठक ले रहे थे। बैठक में अमृत सरोवर और जल जीवन मिशन को लेकर चर्चा की गई। बैठक में शेखावत ने कहा कि राज्य सरकार की शुरुआती उदासीनता का खामियाजा प्रदेश की जनता को भुगतना पड़ रहा है। जल जीवन मिशन के तहत अब तक राजस्थान में महज 25 प्रतिशत काम ही हो पाया है। जबकि तेलंगाना जैसे कई राज्यों में लगभग पूरा काम हो चुका है। गजेंद्र सिंह शेखावत ने कहा कि राज्य सरकार की आपसी खींचतान का खामियाजा जनता को भुगतना पड़ रहा है। शेखावत ने पुराने हैंडपंप और नलकूपों की मरम्मत को लेकर भी आला अधिकारियों को निर्देश दिए, ताकि जनता को तुरंत राहत मिल सके।

इंदिरा नहर क्लोजर पर ली जानकारी

बैठक में शेखावत ने इंदिरा गांधी नहर में क्लोजर की अवधि बढ़ाए जाने के बाद शहर की जलापूर्ति की स्थिति के बारे में अधिकारियों से फीडबैक लिया। उन्होंने उपलब्ध पानी के साथ अगले दस दिन में वितरित किए जाने वाले पानी के बारे में पूरी पड़ताल की। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि वे इस पानी का इस तरह उपयोग करें ताकि लोगों को किसी प्रकार की दिक्कत नहीं हो।

गौरतलब है कि इंदिरा गांधी नहर में मरम्मत के लिए साठ दिन के क्लोजर को दिन के लिए बढ़ा दिया गया है। क्लोजर के अंतिम दिनों में जलदाय विभाग शहर की आपूर्ति बनाए रखने के लिए संघर्ष कर रहा था। ऊपर से नहर का पानी दो दिन विलम्ब से आने के कारण उसकी समस्या काफी बढ़ चुकी है।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें – http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews