सीआरपीएफ का 14वां दीक्षांत समारोह सम्पन्न,1129 जवान बेड़े में शामिल

सीआरपीएफ का 14वां दीक्षांत समारोह सम्पन्न,1129 जवान बेड़े में शामिल

जोधपुर, निकटवर्ती पालडी खिचियांन गांव में स्थित केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) प्रशिक्षण केंद्र में विधिवत रूप से 14वां दीक्षांत समारोह आयोजित किया गया।
ट्रेनिंग के बाद 1129 जवान सीआरपीएफ के बेड़े में शामिल हो गए। इस दीक्षांत समारोह में 1129 जवानों ने कर्तव्य परायणता की शपथ ली। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के राजस्थान सेक्टर के आईजी विक्रम सहगल परेड का निरीक्षण करने के साथ मार्च पास्ट की सलामी ली

सीआरपीएफ का विशेष योगदान

समारोह में सहगल ने कहा कि देश के विकास में केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल का विशेष योगदान रहा है। केवल एक वाहिनी से इसकी शुरूआत हुई थी। आज यह 2800 वाहिनियों का विस्तृत रिजर्व पुलिस बल बन चुका है। उन्होंने जवानों का हौसला बढ़ाने के साथ बताया कि पूरे विश्व में सबसे बड़ा संगठन यदि कोई है तो वह है केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल। सहगल ने कहा कि आज के दीक्षांत परेड समारोह ने पुरानी यादों को फिर से ताजा किया है। वर्ष 1986 में मेरी दीक्षांत परेड हुई थी। इन 37 सालो में मैने केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल को आगे बढते हुए देखा है। साथ ही देखा कि इस बल ने किस तरह देश के विकास में अपनी अहम भूमिका निभाई है।

शेखावत का शुभकामना संदेश पढ़ा गया

इस अवसर पर केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत द्वारा भेजे गए शुभकामना संदेश का पठन किया गया। शेखावत ने सभी नव आरक्षित जवानों को बधाई दी। इस अवसर पर प्रशिक्षण काल के दौरान विशेष प्रदर्शन करने वाले जवानों को सम्मानित भी किया गया। नवआरक्षकों के दीक्षांत समारोह में जवानों के परिजनों ने बढ़ चढक़र हिस्सा लिया। उन्होंने बड़े गर्व के साथ अपने परिवार के सदस्य को सीआरपीएफ का हिस्सा बनते देखा।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें – http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews