standing-committee-on-defense-visited-jaisalmer

रक्षा सम्बन्धी स्थाई समिति ने किया जैसलमेर का दौरा

रक्षा सम्बन्धी स्थाई समिति ने किया जैसलमेर का दौरा

जोधपुर,संसद की रक्षा संबंधी स्थाई समिति ने सोमवार,9 जनवरी को जैसलमेर में दक्षिणी कमान के तत्वावधान में सेना के संगोठनों का दौरा किया,ताकि वर्तमान सुरक्षा परिदृश्य में “रक्षा बलों की सामरिक परिचालन तैयारियों की समीक्षा” की जा सके। समीक्षा में रक्षा तैयारी,नई और स्वदेशी तकनीक का उपयोग, मानवीय सहायता और आपदा राहत शामिल हैं।

समिति की अध्यक्षता जुआल ओराम एमपी (एससीओडी) ने की,जिन्होंने 22 अन्य सदस्यों के साथ की स्थानों का दौरा किया। यात्रा के दौरान, लेफ्टिनेंट जनरल एके सिंह,सेना कमांडर,दक्षिणी कमान ने समिति को आजादी के बाद से कमांड के समृद्ध इतिहास और विरासत,राष्ट्र की सुरक्षा और क्षेत्रीय अखंडता सुनिश्चित करने में इसकी भूमिका और कार्यों तथा विभिन्न अन्य पहलुओं और उपायों के बारे में अवगत कराया। ब्रीफिंग के बाद समिति के साथ अन्य मुददों पर भी बातचीत हुई।

standing-committee-on-defense-visited-jaisalmer

ये भी पढ़ें- जलशक्ति मंत्रालय की टीम ने किया जोधपुर का दौरा

मुख्यालय दक्षिणी कमान भारतीय सेना की सबसे पुरानी कमान है, जिसके पास अन्य सभी कमानों के मुकाबले जिम्मेदारी का सबसे बड़ा क्षेत्र है। दक्षिणी कमान के तहत, कोणार्क कोर रेगिस्तान सेक्टर में सीमाओं की रक्षा कर रही है। इस क्षेत्र ने 1971 के युद्ध में कार्रवाई देखी है, जहां लौंगेवाला की ऐतिहासिक लड़ाई लड़ी गई थी, जिसने पश्चिमी मोर्चे पर दुश्मन के प्रयास को विफल कर दिया था। रक्षा संबंधी स्थाई समिति रक्षा नीतियों के विधायी अवलोकन और रक्षा मंत्रालय के निर्णय लेने के उद्देश्य से भारत की संसद द्वारा गठित संसद के चयनित सदस्यों की एक समिति है।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें- http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews

Similar Posts