railways-new-joint-parcel-product-scheme

रेलवे की नई जॉइंट पार्सल प्रोडक्ट योजना

  • रेलवे व भारतीय पोस्ट का संयुक्त प्रोजेक्ट
  • बीमा की सुविधा भी होगी उपलब्ध
  • मोबाइल ऐप के जरिए भी पार्सल बुक की सुविधा
  • उत्पादों प्रोडक्ट्स के अनुरूप हैंडलिंग बॉक्सेस व इन्फ्राट्रक्चर

जोधपुर,उत्तर-पश्चिम रेलवे के जोधपुर मंडल पर सोमवार को सभागार कक्ष में व्यापारियों के साथ आयोजित बैठक में जॉइंट पार्सल प्रोडक्ट योजना से संबंधित नई नीतियों से अवगत कराया। डीआरएम जोधपुर गीतिका पांडेय की अध्यक्षता में जॉइंट पार्सल प्रोडक्ट योजना के व्यापारियों से विस्तृत चर्चा की गई।

ये भी पढ़ें- प्रोबेशनर प्रशिक्षणार्थी के रूप में 10 पटवारियों की नियुक्ति के आदेश जारी

उल्लेखनीय है कि भारतीय रेलवे में भारतीय पोस्ट विभाग द्वारा संयुक्त रूप जॉइंट पार्सल प्रोडक्ट योजना आरंभ की गई है इसके अंतर्गत एक स्टेशन से दूसरे स्टेशन तक रेल के माध्यम से परिवहन रेलवे द्वारा तथा फर्स्ट माइल से लास्ट माइल तक डिलीवरी पोस्ट विभाग द्वारा प्रदान की जाएगी इस प्रकार पार्सल प्रोडक्ट की डोर टू डोर डिलीवरी की सेवा प्रदान की जाएगी।

इस अवसर पर पोस्ट मैनेजर जनरल सचिन किशोर,जोधपुर इंडस्ट्रियल एसोसिएशन,मरुधरा इंडस्ट्रियल एसोसिएशन एवं ट्रांसपोर्ट लीज होल्डर के प्रतिनिधि और व्यापारी उपस्थित थे। डीआरएम ने बताया कि इसके लिए विभिन्न प्रोडक्ट्स उत्पादों के अनुरूप बॉक्स क्रेज बनाए जाएंगे जिससे विभिन्न उत्पादों का परिवहन सुविधायुक्त शीघ्र व बिना किसी नुकसान के संभव हो पाएगा। इनबॉक्स ट्रेन की स्टेशन पर हैंडलिंग हेतु पार्सल कार्यालय में भी अत्याधुनिक आधारभूत संरचना का शीघ्र ही विकास किया जाएगा जिससे पल्लेट्स,बॉल ट्रांसफर यूनिट,रोलर ट्रॉली,स्काइसर्स ट्रॉली,स्टैकिंग एरिया, बॉल डेक्स एरिया और कन्वेयर कन्वेयर सिस्टम आदि सम्मिलित है।

ये भी पढ़ें- रात दो बजे कार खड़ी की,सुबह साढ़े छह बजे तक चोर ले गए

डीआरएम ने बताया कि पार्सल से माल वहन में रेलवे ने सुरक्षित माल के परिवहन के लिए नई योजना चालू की है जिसमें सामान को अलग से बने बॉक्स/क्रेज में रखा जाएगा तथा इस क्रेज/ बॉक्स को सीधा पार्सल यान में चढ़ाया जाएगा जिससे माल को किसी प्रकार का नुकसान नहीं होगा। उन्होंने बताया कि एक पार्सल यान में कई प्रकार के अलग-अलग साइजेस के बॉक्स लोड किए जा सकते हैं। रेलवे इसके लिए अलग से बॉक्स क्रेज बनाने की तैयारी में जुट गया है जिसमें हैंडीक्राफ्ट्स/मेडिकल/ सर्जिकल आइटम/ कांच के सामान,चूड़ियां इत्यादि प्रकार के समान को बिना किसी नुकसान के गंतव्य स्थान पर पहुंचाया जा सकेगा।

उन्होंने बताया कि रेलवे सुरक्षित पार्सल लदान और समय पर आपूर्ति करने वाला यातायात का सुगम साधन है। इस अवसर पर उन्होंने रेलवे से जॉइंट पार्सल प्रोडक्ट योजना को बढ़ावा देने के लिए लागू प्रधानमंत्री के गति शक्ति विजन,स्टार्टअप और नई नीतियों की विस्तृत जानकारी दी।

ये भी पढ़ें- मादक पदार्थ तस्करी का आरोपी 16 साल बाद गिरफ्तार

बैठक में एसोसिएशन एवं व्यापारियों ने इस योजना के क्षेत्र में आने वाली विभिन्न समस्याओं से डीआरएम को अवगत कराया जिस पर पांडेय ने तत्परता से सभी समस्याओं के निराकरण का भरोसा दिलाया।

उल्लेखनीय है कि ज्वाइंट पार्सल प्रोडक्ट प्रायोगिक तौर पर मुंबई डिवीजन के सूरत से वाराणसी यह योजना जारी है जो पूरे भारतीय रेल पर लागू होगी।जोधपुर रेल मंडल की ओर से मंडल वाणिज्य प्रबंधक विकास खेड़ा ने रेलवे की वाणिज्यिक योजनाओं पर विस्तृत प्रकाश डाला। बैठक में अपर मंडल रेल प्रबंधक मनोज जैन,वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक जितेंद्र मीणा, वरिष्ठ मंडल परिचालन प्रबंधक अजीत मीणा व एसोसिएशन के पदाधिकारी और व्यापारी उपस्थित थे।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें- http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews