जोधपुर की अपणायत को बनाएं दुनिया के लिए मिसाल

जोधपुर की अपणायत को बनाएं दुनिया के लिए मिसाल

वसुधैव कुटुंबकम के सूत्र को अपनाएं

जोधपुर,अपणायत के शहर में पिछले दिनों कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा जोधपुर की शांति भंग करने की कोशिश की गयी, प्रशासन, पुलिस और शहर वासियों के संयुक्त प्रयासों के कारण जोधपुर की हवा में पुनः प्रेम और भाईचारे की खुशबू बिखर रही है। लोगों की दिनकरयाब पटरी पर आ रही है। शहर की शांति व्यवस्था को बहाल करने के लिए जहाँ एक ओर प्रशासन और पुलिस ने हर स्तर पर हर संभव प्रयास कर रही है वहीं दूसरी तरफ विभिन्न धर्म गुरुओं ने भी जोधपुर वासियों से शांति और सद्भाव की अपील की है।

जोधपुर की अपणायत को बनाएं दुनिया के लिए मिसाल

मुनेश्वर गिरिराज, दादा दरबार सिद्धनाथ महादेव मंदिर

जोधपुर एक शांतिप्रिय नगरी है, इसमें घटित किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना के ज़िम्मेदार हम सभी हैं। यह हमारा कर्त्वय है कि हम आपसी सौहार्द बनाकर एक साथ प्रेम से रहें, एक दूसरे को हानि न पहुंचाएं और शांति बनाएं रखें। हमारी संस्कृति अहिंसा की है, उसी संस्कृति का पालन करते हुए हमें शांति के पथ को अपनाना चाहिए। यह मेरी अपील है कि सभी जोधपुर वासी शहर में निर्भय होकर प्रेम पूर्वक रहें।

जोधपुर की अपणायत को बनाएं दुनिया के लिए मिसाल

महंत रामप्रसाद, सूरसागर बड़ा रामद्वारा

कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा जोधपुर में बीते दिनों कठिन परिस्थितियों का सामना किया, शहर ने अशांति का माहौल देखा। ऐसे में मेरा सभी जोधपुर वासियों से अनुरोध है कि जोधपुर की परंपरा और गरिमा को बनाये रखें, सभी एक जुट होकर प्रेम भाव से रहें और पूरी सकारात्मकता के साथ अपने शहर में पुनः शांति व्यवस्था बनाएं।

जोधपुर की अपणायत को बनाएं दुनिया के लिए मिसाल

मुफ़्ती शेर मोहम्मद खान रिज़वी, मुफ़्ती-ए-आज़म राजस्थान

मैं तमाम मुस्लमान भाइयों से और हिन्दू भाइयों से यही कहना चाहूंगा कि हमारे जोधपुर की सदियों से प्रेम मोहब्बत की तामील रही है। पिछले 50 सालों से मैं खुद ये देखता आया हूँ हिन्दू मुस्लिम आपस में एक दूसरे के यहाँ शादी ब्याह में एक दूसरे की बड़े प्यार से अदब से खिदमत करते आये हैं। पिछले कुछ दिनों में जोधपुर में जो कुछ हुआ,उससे हम सभी को तकलीफ हुई है,हमारे मुख्यमंत्री को तकलीफ हुई है। इस तकलीफ को दूर करने के लिए हम सभी को एक बार फिर मिलकर शांति के साथ रहना होगा। मेरा ख्वाहिश है हम दुनियां को दिखा दें कि जोधपुर में नफरत नहीं पनपती, बल्कि यहाँ सभी चाशनी सी मीठी मोहब्बत के साथ रहते हैं। मेरी दरख्वास्त है कि शहर में अमन और चैन का माहौल बनाएं।

जोधपुर की अपणायत को बनाएं दुनिया के लिए मिसाल

सैनाचार्य अचलानन्द गिरी

यही कामना है कि जोधपुर वासी वासुदेव कुटुंभ्कम के सूत्र के साथ एक साथ मिलजुलकर रहें। जोधपुर धर्मात्मा,सर्वभावीय नगरी है, यह परंपरा और भाईचारे की नगरी है, हिन्दू मुस्लिम हमारी दो आँखें हैं। इसलिए मेरी सभी से अपील है कि सबको एक साथ लेकर चलें, कुछ असामाजिक तत्वों ने जो किया, उनको भी रामापीर सद्बुद्धि दे। पिछले दिनों जो इस नगरी में घटा उसे पीछे छोड़कर अब आगे बढ़ें, विरोधाभाव को त्यागें और पूरे प्रेम भाव और एकता के भाव से एक साथ रहे।

जोधपुर की अपणायत को बनाएं दुनिया के लिए मिसाल

रेवरल जीतेन्द्र नाथ, इंचार्ज बी रोड सरदारपुरा

पिछले कुछ दिनों में जोधपुर में जो कुछ भी हुआ, उससे हमारे शहर की शांति भंग हुई मेरा आप सब जोधपुर वासियों से निवेदन है कि आप सभी जन शांति एवं भाईचारा बनाये रखें। हम चाहे जिस भी धर्म को मानते हैं, जिस भी जगह पर रहते हैं लेकिन हम सभी जोधपुर वासी हैं। मेरी अपील है अपने जोधपुर वासियों से कि जो हुआ उसे भूल कर,एक बार फिर जोधपुर की शांति को बहाल करने में अपना योगदान दें। आज तक जोधपुर प्रेम और एकता की भूमि रही है, आशा करता हूँ कि हम सब मिलकर एक बार फिर जोधपुर को प्रेम और एकता की मिसाल बनाएंगे।

जोधपुर की अपणायत को बनाएं दुनिया के लिए मिसाल

आदेश्वर जैन सचिव भैरूबाग पार्श्वनाथ जैन श्वेतांबर तीर्थ

जोधपुर वासियों से मेरी यही अपील है कि सभी अपने-अपने धर्म और आस्था के निर्वहन के साथ-साथ दूसरे धर्म का भी आदर सम्मान करें। मेरा मानना है कि जोधपुर की शांति को बुरी नज़र लग गयी तो यह हम सभी जोधपुर वासियों का कर्त्तव्य है कि हम इस बुरी नज़र को उतारें और एक बार फिर जोधपुर की अपणायत की परंपरा को कायम करें। मेरी सभी से विनती है कि अफवाहों पर विश्वास न करें। हम सभी वर्षों से एक साथ मिलजुल कर रहे हैं और भविष्य में भी इसी प्रकार एक साथ प्रेम के साथ रहेंगे। इसके लिए प्रशासन का कंधे से कन्धा मिलकर साथ देंगे।

जोधपुर की अपणायत को बनाएं दुनिया के लिए मिसाल

नरेंद्र सिंह चौहान, अध्यक्ष मसूरिया बाबा रामदेव मंदिर ट्रस्ट

जोधपुर अपणायत का शहर है, आज तक हम सभी जोधपुर वासियों ने आपसी सहयोग का परिचय देते हुए एक दूसरे के पर्व त्योहारों को मनाया है मैं सभी से निवेदन करता हूँ कि भविष्य में भी जोधपुर इसी प्रकार अपणायत की परंपरा को बनाये रखे। मुझे विश्वास है कि जोधपुरवासी प्रेम और भाईचारे के साथ एक साथ रहेंगे।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें – http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews