chief-minister-ashok-gehlot-will-inaugurate-and-lay-the-foundation-stone-on-sunday

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत रविवार को करेंगे शुभारंभ एवं शिलान्यास

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत रविवार को करेंगे शुभारंभ एवं शिलान्यास

  • तीन दिवसीय राजस्थान डिजीफेस्ट -2022 परवान पर
  • शनिवार को भी उमड़े हुनरमन्द युवा
  • प्रमुख शासन सचिव अखिल अरोड़ा ने मीडिया से की बात
  • मुख्यमंत्री स्टार्टअप्स के लिए संजीवनी के रूप में एक नयी स्टार्टअप पालिसी भी लांच करेंगे
  • राजीव गाँधी फिनटेक डिजिटल इंस्टिट्यूट का शिलान्यास करेंगे

जोधपुर,सूचना प्रौद्योगिकी और संचार विभाग की ओर से जोधपुर के राजकीय पॉलिटेक्निक कॉलेज में चल रहा तीन दिवसीय राजस्थान डिजीफेस्ट एवं जॉब फेयर दूसरे दिन शनिवार को परवान पर रहा और यह अब तक कई उपलब्धियों का दिग्दर्शन करा चुका है।

ये भी पढ़ें- लोक कलाकार भंवरू खां ने बांधा समां

chief-minister-ashok-gehlot-will-inaugurate-and-lay-the-foundation-stone-on-sunday

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत रविवार को देंगे कई सौगातें

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत रविवार को डीजीफेस्ट एवं जॉब फेयर-2022 में रविवार 13 नवम्बर को पूर्वाह्न 11.30 बजे आयोजित समारोह में हिस्सा लेंगे। इस दौरान मुख्यमंत्री जोधपुर और पाली के स्टार्टअप्स के लिए प्लग एन प्ले फैसिलिटी के लिए इन्क्यूबेशन सेंटर का शुभारम्भ करेंगे। जोधपुर में राजीव गाँधी फिनटेक डिजिटल इंस्टिट्यूट का शिलान्यास करेंगे और इसका अस्थायी भवन में कार्य प्रारम्भ करेंगे। इसके आलावा मुख्यमंत्री गहलोत स्टार्टअप्स के लिए संजीवनी के रूप में एक नयी स्टार्टअप पालिसी भी जोधपुर में आयोजित इस कार्यक्रम में लांच करेंगे।

chief-minister-ashok-gehlot-will-inaugurate-and-lay-the-foundation-stone-on-sunday

आशातीत उपलब्धियों का दिग्दर्शन

सूचना प्रौद्योगिकी विभाग के प्रमुख शासन सचिव अखिल अरोरा ने बताया कि जोधपुर में आयोजित हो रहा राजस्थान डीजीफेस्ट एवं जॉब फेयर व्यापक सफलता पा रहा है। इसमें अब तक आए युवाओं में से 18 हजार युवा इन्टरव्यू दे चुके हैं। इनमें से 6 हजार 500 शॉर्ट लिस्ट हुए हैं जबकि 1600 युवाओं को विभिन्न कंपनियों द्वारा नियुक्ति पत्र भी सौंपे जा चुके हैं। उन्होंने बताया कि इसमें तीन प्रतिभाओं को सर्वाधिक 18-18 लाख के पैकेज से लाभान्वित किया जा चुका है।

ये भी पढ़ें-हिमांचल विधान सभा चुनाव के लिए शांतिपूर्ण मतदान जारी

डीजीफेस्ट के अन्तर्गत शनिवार को युवाओं का कुंभ उमड़ा। लोक सांस्कृतिक प्रस्तुतियों में लोक कलाकारों के समूहों ने राजस्थान की परंपरागत लोक संस्कृति के इन्द्र धनुरूषी रंग-रसों का दरिया बहा दिया। डीजी फेस्ट में शनिवार को सेशन हॉल नंबर 1 में प्रथम सत्र में ‘एक्सेसिबिलिटी ऑफ हेल्थटेक’ विषयक संगोष्ठी का आयोजन हुआ। इसमें जीएम केयर्न इंडिया,एका केयर, मेडिकोर्डस,रेड क्लिफ लेब्स आदि के अयोध्या प्रसाद गौड़,दीपक तुलसी, श्रेयांश मेहता व अभय सिंघवी ने महत्वपूर्ण जानकारी दी।

chief-minister-ashok-gehlot-will-inaugurate-and-lay-the-foundation-stone-on-sunday

प्रमुख शासन सचिव ने किया तैयारियों का अवलोकन

सूचना प्रौद्योगिकी विभाग के प्रमुख शासन सचिव अखिल अरोड़ा ने शनिवार रात डीजीफेस्ट में अधिकारियों की टीम के साथ अवलोकन किया और कल होने वाले समारोह को लेकर की गई तैयारियों तथा समारोह से संबंधित विभिन्न प्रबन्धों का अवलोकन किया और आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। अरोड़़ा के साथ ही सूचना प्रौद्योगिकी और संचार विभाग के आयुक्त आशीष गुप्ता,निदेशक आईटी व संयुक्त सचिव सुनील छाबड़ा,जिला कलक्टर हिमांशु गुप्ता आदि ने अवलोकन किया और विभिन्न प्रबन्धों को देखा।

सूचना प्रौद्योगिकी और संचार विभाग के अधिकारियों एमआर पुरोहित, महेन्द्र चौधरी, मनीष भाटी व राजीव जैन सहित अन्य अधिकारियों ने फेस्ट की अब तक की उपलब्धियों के बारे में अवगत कराया।

आईटी की बदौलत प्रदेश का बहुआयामी विकास नए दौर में

प्रमुख शासन सचिव अरोड़ा ने पॉलिटेक्निक कॉलेज के इंक्यूबेशन सेंटर में मीडियकर्मियों से संवाद करते हुए डीजीफेस्ट आयोजन के उद्देश्य, गतिविधियों और इसके प्रभावों तथा इनसे आईटी के बहुआयामी व्यापक प्रयोगों के माध्यम से आने वाले सम सामयिक एवं दूरगामी परिणामों के बारे में विस्तार से जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की मंशा के अनुरूप राजस्थान में आईटी के क्षेत्र में क्रान्तिकारी आयाम स्थापित हो रहे हैं और डीजीफेस्ट युवाओं का भविष्य संवारने की दिशा में अहम प्रयास है। उन्होंने कहा कि आज हर क्षेत्र में आईटी का प्रयोग हो रहा है और तीव्रतर विकास को संबल मिल रहा है।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें- http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews

लोक कलाकारों ने बिखेरे संस्कृति के रंग

डीजी फेस्ट में आयोजित कल्चरल सेशन में लंगा बंधुओं ने लोक कलाकार भंवरू खां की अगुवाई में राजस्थानी लोक गीतो की शानदार प्रस्तुति दी। उन्होंने ‘काल्यो कूद पड़ियो मेला में,‘जब देखूं बन्ना री लाल पीली अँखियां’ गीतों से सभागार में दर्शकों को आनन्दित किया। महबूब अली की टीम ने कुचामणी ख्याल की प्रस्तुति से श्रोताओं को भाव विभोर कर दिया। इन कलाकारों की मनमोहक प्रस्तुतियों पर रसिकों के समूह झूम उठे।

डीजी फेस्ट में 7 डी सिनेमा देखकर दर्शक दूसरे दिन भी खूब रोमांचित हुए। बहुत बड़ी संख्या में लोग अब तक 7डी सिनेमा का आनन्द ले चुके हैं। डीजी फेस्ट में रजिस्ट्रेशन के बाद वेटिंग डॉम में बैठे युवाओं ने क्विज कंपीटिशन की रोचक गतिविधियों में उत्साह से हिस्सा लिया और विभिन्न प्रकार के प्रश्नों के उत्तर देते हुए अपनी प्रतिभाओं का परिचय दिया।
डीजी फेस्ट में शनिवार को दिन भर विभिन्न कंपनियों द्वारा युवाओं के इटरव्यू लेने का दौर चला। सैकड़ों की संख्या में युवाओं ने अपने-अपने हुनर एवं ज्ञान के अनुरूप इन्टरव्यू दिए। इनमें से काफी संख्या में युवाओं का चयन हुआ।

आज की शाम-अमन के नाम ने ख़ासा समा बांधा

तीन दिवसीय डीजी फेस्ट की दूसरी सांझ में ‘आज की शाम-अमन के नाम’ ने डीजीफेस्ट को सांस्कृति रंग-रसों से सराबोर कर दिया। बड़ी संख्या में मौजूद रसिकों ने जी भर कर इसका आनंद लिया। राजस्थानी लोक कलाकारों के साथ पिछले दो दिन से जारी डिजिटल माध्यम एवं लोक कलाकार कार्यशाला के संभागी कलाकारों एवं अन्य लोक कलाकारों ने शांति,सद्भाव एवं सांस्कृतिक सौहार्द के लिए म्यूजिक फेस्ट स्टेज पर शानदार सांगीतिक प्रस्तुतियों का रंग जमाते हुए दिल जीत लिया।

इस दौरान देश-दुनिया में मशहूर बैण्ड एवं 100 से अधिक राजस्थानी लोक कलाकारों ने लोक लहरियों का ज्वार उमड़ा दिया। इनमें कबीर कैफे,लंगा मांगणियार,कालबेलिया,चकरी नृत्य, कबीर गायन,कुचामनी ख्याल सहित कई लोक सांस्कृतिक प्रस्तुतियों ने शनिवार की शाम को शानदार रंगों और रसों से सजा दिया।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें- http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews

Similar Posts