नशे में डूबने लगे युवा, मेफे ड्रॉम ड्रग तक होने लगी सप्लाई

नशे में डूबने लगे युवा मेफे ड्रॉम ड्रग तक होने लगी सप्लाई

जोधपुर, बदलती जीवन शैली और हाइप्रोफाइल जीवन जीने की ललक अब शहर के युवाओं को नशे की जद में जडऩे लगी है, ऐसा अंदेशा अभी लगाया जा सकता है। अफीम, डोडा और गांजे का नशा करने वाला युवक अब हाईप्रोफाइल नशा करने लगा है। जिसकी अनुमानित कीमत वह खुद नहीं लगा सकता। पुलिस की लाख कोशिशों के बावजूद नशे का कारोबार फलने फूलने से नहीं रूक रहा है।

जिले एवं शहर में अब नशे के कारोबार का हब बनता जा रहा है, नशा करना व नशे की खरीद फरोख्त अब बड़े पैमाने पर होने लगी है। ये इसलिए तब गुजरात के अहमदाबाद में एक तस्कर को गिरफ्तार किया गया। अब जोधपुर से न केवल गुजरात बल्कि अन्य राज्यों में नशे की खेप पहुंचाए जाने का काम हो रहा है। जोधपुर से 250 ग्राम मेफेड्रॉम ड्रग (पार्टी ड्रग) अहमदाबाद सप्लाई की गई, जिसमें दो तस्करों को पकड़ लिया गया। इस मेफेड्रॉम ड्रग की बाजार की कीमत 25 लाख रुपए आंकी जा रही है। गिरफ्तार हुए युवकों ने पुलिस को बताया कि ये मेफेड्रॉम ड्रग वो जोधपुर के एक पेडलर के पास से लाए है। अब गुजरात पुलिस जोधपुर के उस पेडलर की तलाश में लगी है, ताकि उस पूरे रैकेट का पर्दाफाश किया जा सके।

बस में पकड़ा गया तस्कर

अहमदाबाद की क्राइम ब्रॉच पुलिस ने माउंट आबू से बस में आ रहे ताहिर कुरेशी को पकड़ा। जिसकी तलाशी ली तो उसके पास 250 ग्राम मेफेड्रॉम ड्रग मिली, जिस पर तुरंत उसे गिरफ्तार कर लिया गया। उसने पुलिस को बताया कि ये ड्रग तारिक शेख ने जोधपुर से यहां पहुंचाने का कहा था। पूछताछ में ये भी बताया कि ये ड्रग उन्होंने जोधपुर के एक पेडलर अगसर खान से ली थी। जिसकी अब तलाश की जा रही है।

हाईप्रोफाइल पार्टियों में होता उपयोग

बड़ी व हाइप्रोफाइल पार्टियों में मेफेड्रॉन ड्रग नशे के लिए मंगवाई जाती है, ये मुम्बई, दिल्ली सहित अन्य मेट्रो सिटी में दर्जनों बार पकड़ी जा [चुकी है। युवा इसे रेव व पूल पार्टियों में इसे काम में लेते है। जिसका पूरा नाम मिथाइलीनडाइ ऑक्सी मेथैमफेटामाइन को कई नामों से बेचा जा रहा है।

दिमाग को करता है सुन्न

सूत्रों के मुताबिक इसे नशा करने वाले सूंघकर व पानी में मिलाकर लेते हैं। यह शरीर के लिए बड़ा घातक नशा है। ये लेने के बाद दिमाग सून जैसा हो जाता है, ये पूरा अटैक दिमाग को करता है। जो अफगानिस्तान व नाइजिरिया में सबसे अधिक उत्पादन होता है। लेकिन ये जोधपुर में कैसे और कौन कारोबार कर रहा है ये एक बड़ा सवाल बन चुका है।

पुलिस के एक चुनौती बन कर उभरेगा

माना जाता है कि मेफेड्रान ड्रग का नशा बड़े स्तर या हाईप्रोफाइल लोगों के बीच होता है। मगर अब पुलिस के लिए इसके कारोबार का पता लगाने के लिए एक चुनौती बनकर भी उभर सकता है। कहीं ऐसा ना हो कि जोधपुर उड़ता दिखाई दे।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन अभी डाउनलोड करें –http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews