Worship at home on Lord Parshuram's birth anniversary

जोधपुर, भगवान परशुराम की जयंती शुक्रवार को शहर में सेवा कार्यों के साथ मनाई गई। भगवान परशुराम के जन्मोत्सव पर कई संगठनों ने जरूरतमंदों को सामान बांटा। उनकी घर-घर पूजा अर्चना की गई। लॉक डाउन होने के कारण शोभायात्रा सहित बड़े आयोजन स्थगित कर दिए गए थे। इस कारण लोगों ने घरों में ही भगवान परशुराम की पूजा कर भोग लगाया।

Worship at home on Lord Parshuram's birth anniversary

अंतरराष्ट्रीय ब्राह्मण फ़ेडरेशन (आईबीएफ) ने भगवान परशुराम का जन्मोत्सव अनाथ बच्चों एवं वृद्धजनों के साथ मनाया। फ़ेडरेशन के जिलाध्यक्ष राजेश सारस्वत एवं महासचिव गौरव निम्बावत ने बताया कि भगवान परशुराम के जन्मोत्सव के उपलक्ष्य में फ़ेडरेशन के प्रदेशाध्यक्ष एडवोकेट हस्तीमल सारस्वत के सान्निध्य में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए गए।

शुक्रवार को सुबह लवकुश गृह, आस्था वृद्धाश्रम एवं बाल बसेरा में ऑक्सीमीटर, हैंड सेनेटाइजर, एन 95 मास्क, फल, बिस्कुट एवं अन्य सामग्री भेंट की गई। हैंड सेनेटाइजर एवं एन95 मास्क जिला युवाध्यक्ष नरेश पुरोहित ने उपलब्ध करवाए। इस अवसर पर प्रदेशाध्यक्ष सारस्वत ने भगवान परशुराम से वृद्धजनों व बच्चों के स्वस्थ जीवन की कामना की। उन्होंने कहा कि लवकुश गृह व आस्था वृद्धाश्रम के प्रभारी राजेन्द्र परिहार एवं बाल बसेरा के प्रभारी दिनेश जोशी से प्रेरणा लेकर इनके द्वारा किए जा रहे कार्यो में हमे अपनी भागीदारी सुनिश्चित करनी चाहिए।

ये भी पढ़े :- सात समुंदर पार रह रही बेटियों ने समझी मातृभूमि की पीड़ा, कोरोना पीड़ितों की सहायतार्थ 2 लाख रुपए भेजे

उन्होंने बताया कि शाम को भगवान परशुराम चौराहा, सेण्ट्रल एकेडमी स्कूल, चौपासनी हाउसिंग बोर्ड में दीपोत्सव के साथ परशुराम की पूजा अर्चना की गई। विप्र बन्धुओ ने भी सायंकाल अपने अपने घरों में दीपोत्सव मनाया। इन कार्यक्रमों में फ़ेडरेशन के प्रदेश युवाध्यक्ष राजकुमार शर्मा, प्रदेश महासचिव सर्वण त्रिवेदी, उपाध्यक्ष बीएम पुरोहित, आईटी सेल के मनीष आचार्य, बजरंग स्वामी व समृद्धि सारस्वत आदि मौजूद थे।

दीप प्रज्ज्वलित कर शंखनाद:
परशुराम जयंती के पर्व पर राजस्थान ब्राह्मण महासभा द्वारा कोविड-19 पालना करते हुए प्रतीकात्मक कार्यक्रम रखे गए। सुबह राजस्थान ब्राह्मण महासभा के अध्यक्ष जगदीश गौड़ द्वारा भगवान परशुराम के समक्ष दीप प्रज्ज्वलित कर शंखनाद किया गया। महासभा के कार्यकारी अध्यक्ष नथमल पालीवाल व प्रदेश उपाध्यक्ष कमल जोशी ने बताया कि कोरोना वायरस को ध्यान में रखते हुए शोभायात्रा का आयोजन नहीं रखा। शहर के रेलवे स्टेशन व मुख्य चौराहों पर मास्क व सैनिटाइजर का वितरण किया गया। पालीवाल ने बताया कि पिछले 9 दिनों से निरंतर देव दर्शन गेस्ट हाउस में कोविड-19 के मरीजों के साथ आने वाले परिजनों के लिए आवास और भोजन की निःशुल्क व्यवस्था चल रही है। इस अवसर पर महेंद्र उपाध्याय, हेमेंद्र गौड़, यश पारीक, जगदीश शर्मा, जनार्दन द्विवेदी सहित अनेक गणमान्य बंधुओं के साथ पक्षियों के परिंडे लगाकर भगवान परशुराम जयंती मनाई गई।