vatsalya-campaign-started-investigation-of-pre-natal-pregnant-women-started

शुरू हुआ ‘वात्सल्य’ अभियान प्रसव पूर्व गर्भवतियों की जांच शुरू

जिला कलेक्टर की अभिनव पहल 

जोधपुर, सुरक्षित और स्वस्थ मातृत्व को बेहतर करने की अभिनव पहल वात्सल्य अभियान (एक कदम सुरक्षित मातृत्व की ओर) के अंतर्गत गर्भवती माताओं और नवजात शिशुओं को सेहत की सुरक्षा प्रदान करने की दृष्टि से सुरक्षा कवच के रूप में उपयोगी सिद्ध हो रहा है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ जितेंद्र पुरोहित ने बताया कि जिला प्रशासन के निर्देशानुसार वात्सल्य अभियान का द्वितीय चरण 8 अगस्त को जोधपुर शहरी क्षेत्र के स्वास्थ्य केंद्रों पर शुरू हुआ। उन्होंने बताया कि शहरी समुदायिक केंद्र, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, सैटेलाइट अस्पताल व जिला अस्पताल में विशेष सत्र आयोजित होंगे।

डोर टू डोर सर्वे

जिला प्रजनन एवं शिशु स्वास्थ्य अधिकारी डॉ कौशल दवे ने बताया कि इस अभियान के तहत पीसीटीसी पोर्टल पर पंजीकृत गर्भवती महिलाओं की एएनसी (प्रसव पूर्व जांच) एक ही दिन में पूर्ण करने के लिए संबंधित स्वास्थ्य केंद्रों के अधीन पंजीकृत गर्भवती महिलाओं से स्वास्थ्य कार्मिकों द्वारा डोर टू डोर सर्वे कर उन्हें अपने नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र पर एएनसी जांच के लिए आने के लिए प्रेरित किया गया है।

निशुल्क दवाइयां उपलब्ध कराई

वात्सल्य योजना के अंतर्गत बच्चों के नियमित टीकाकरण के साथ गर्भवती महिलाओं के लिए एचबी,बीपी,यूरीन, टीएसएच (केवल उन्हीं केंद्रों पर जहाँ ये व्यवस्था उपलब्ध है), शुगर/एल्ब्यूमिन,एचआईवी,सिफलिस की जाँच (किट की उपलब्धता के अनुसार) की सुविधा उपलब्ध की गई। इसके अलावा गर्भवती महिलाओं का वजऩ नापना,उदर जांच की सुविधा दी गई और जांच में महिलाओं के एचबी के अनुसार उन्हें आयरन फोलिक एसिड, कैल्शियम /विटामिन डी 3, एल्बेंडाजोल की गोलियां भी दी गई। गर्भवतियों का टीकाकरण भी किया गया।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें – http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews