27 तोला सोना व 4 लाख की चोरी का खुलासा,नकबजन गिरफ्तार

27 तोला सोना व 4 लाख की चोरी का खुलासा,नकबजन गिरफ्तार

ऑनलाइन जुआ खेलने की लत में करने लगा चोरियां

जोधपुर,27 तोला सोना व 4 लाख की चोरी का खुलासा,नकबजन गिरफ्तार।जिले की ग्रामीण पुलिस ने बालेसर थाना क्षेत्र में गत साल नवंबर में हुई बड़ी नकबजनी का आज खुलासा करते हुए शातिर नकबजन को गिरफ्तार किया है। जिला पुलिस अधीक्षक जोधपुर ग्रामीण धर्मेंन्द्रसिंह ने बताया कि पुलिस थाना बालेसर के मालियों का बेरा गाजणा माता रोड बेलवा खत्रियान गांव से तकरीबन 27 तोला सोना सहित करीब 4 लाख की चोरी हुई थी।

यह भी पढ़ें – मौसमी बीमारियों से बचाव,चिकित्सा विभाग की तैयारियां शुरू

22 नवम्बर 2023 को पुलिस थाना बालेसर में परिवादी अशोक कुमार पुत्र डूगराराम निवासी मालियों का बेरा गाजणा माता रोड बेलवा खत्रियान ने रिपोर्ट दी कि वह दिन में बाहर गया था तब उसके घर में चोरी की वारदात हुई थी। वारदात को खोलने के लिए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जोधपुर ग्रामीण भोपाल सिंह व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जयदेव सियाग, वृताधिकारी बालेसर कैलाश कंवर राठौड़ को निर्देश दिए। जिस पर थानाधिकारी नरपतदान,साइबर सैल के एएसआई अमानाराम,डूगरसिंह के साथ थाना व साइबर टीम गठित कर अज्ञात चोरों की तलाश शुरू की गई।
मुखबिरी व तकनीकी डाटाबैस से संदिग्ध ताराराम पुत्र छोटूराम माली निवासी मालियों का बेरा गाजणा माता रोड बेलवा खत्रियान थाना बालेसर की भूमिका संदिग्ध आई। जिस पर उसे दस्तयाब कर मनोवैज्ञानिक रूप से पूछताछ की गयी तो घटना करना स्वीकार किया। इस पर उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

ऑनलाइन जुआ खेलने पर हुआ था नुकसान
पूछताछ में पता लगा कि आरोपी ताराराम पुत्र छोटूराम माली निवासी मालियों का बेरा गाजणा माता रोड बेलवा खत्रियान थाना बालेसर द्वारा ऑनलाइन गेम खेलने से काफी मात्रा में आर्थिक नुकसान हो गया था।
उसने अपनी पत्नि के गहने पूर्व में विक्रय कर दिये थे। इसके पश्चात भी ऑन लाइन गेम की लत को नहीं छोड़ पाया और आस-पास में चोरी करना प्रारम्भ कर दिया। शुरूआत में छोटी छोटी चोरियों करते हुये बड़ी चोरी की प्लान तैयार किया। इसके लिये घटना की दिनांक के आस-पास मुलजिम के पड़ौस में शादी होने पर उसके पड़ौसी परिवादी अशोक कुमार के घर पर कोई नहीं था जिसका फायदा उसने उठाया और घर के पीछे से छत पर चढक़र घर के अन्दर घुस कर 27 तोला सोना व 4 लाख रुपये लेकर फरार हो गया।

नदी में छुपाई राशि
आरोपी द्वारा चोरी किए गए माल व राशि गांव के पास नदी में काफी दिनों तक छुपा दी जिससे उस पर कोई शक नहीं कर सके। तत्पश्चात् अपनी पत्नि को ससुराल भेजने के बाद धीरे-धीरे सोना बेचान शुरू किया जिससे कोई शक नहीं करे और चोरी किए गए रुपयों को भी धीरे-धीरे खर्च करना शुरू किया।

दूरदृष्टि न्यूज़ की एप्लीकेशन यहाँ से इनस्टॉल कीजिए – https://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews

Similar Posts