panchayat-class-iv-worker-ate-poison-case-filed-against-sarpanch-and-village-servant

पंचायत चतुर्थ श्रेणी कर्मी ने खाया जहर,सरपंच व ग्राम सेवक पर केस दर्ज

नौकरी से निकालने की धमकी और काम पर नहीं आने को बोला

जोधपुर,शहर के निकटवर्ती डांगियावास के जालेली फौजदार ग्राम पंचायत के एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी ने जहर खाकर अपनी जान दे दी। जहर खाने का पता लगने पर उसे अस्पताल ले जाया गया। मगर वह चल बसा। उसके चाचा ने सरपंच, सरपंच प्रतिनिधि और ग्राम सेवक पर आत्म हत्या के लिए दुष्प्रेरित किए जाने का आरोप लगाया और डांगियवास थाने में रिपोर्ट दी है।

पुलिस ने इसमे अब जांच पड़ताल आरंभ की है। शव को कार्रवाई के उपरांत परिजन को सौंप दिया गया। आरोप है कि चतुर्थ श्रेणी कर्मी को नौकरी से निकालने की धमकी के साथ काम पर नहीं आने का बोला जा रहा था। महिने भर से आहत होकर अब उसने अपनी जान दे दी।

थानाधिकारी कन्हैयालाल ने बताया कि जालेली फौजदार निवासी बाबूराम पुत्र गोविंदराम विश्रोई की तरफ से यह रिपोर्ट दी गई।इसमें बताया कि उसका भतीजा 55 वर्षीय हड़मानराम विश्रोई जालेली फौजदार ग्राम पंचायत में काम करता था। वह चतुर्थ श्रेणी का काम करता था। ग्राम सरपंच धापुदेवी, सरपंच प्रतिनिधि श्रवणराम एवं ग्राम सेवक आनंद व्यास उसे बार-बार नौकरी से निकालने की धमकियां देते थे। महिने डेढ़ महिने से उसे धमकी मिल रही थी। इससे वह काफी परेशान रहने लगा था। अभी दो दिन पहले ही उसे काम पर नहीं आने का बोला गया था। बाबूराम का आरोप है कि यह बातें खुद हड़मानराम ने परिवार को बताई थी।

मानसिक रूप से परेशान होने पर उसने 4 अगस्त को ग्राम पंचायत में ही चूहे मारने की दवाई खा ली। हालांकि इसका पता लगने पर अस्पताल ले जाया गया। मगर उसकी कुछ देर बाद मौत हो गई। थानधिकारी कन्हैयालाल ने बताया कि घटना में आत्महत्या के लिए दुष्प्रेरित किए जाने का मामला दर्ज किया गया है। शव को कार्रवाई कर सौंप दिया गया है। अग्रिम पड़ताल जारी है।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें- http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews