on-the-first-monday-of-shravan-the-chants-of-har-har-mahadev-resonated-in-the-shivalayas

श्रावण के पहले सोमवार को शिवलयों में गूंजे हर हर महादेव के जयकारे

रूद्रीपाठ के साथ हुआ अभिषेक

जोधपुर,शहर में आज सावन के प्रथम सोमवार शिव मंदिरों में रूद्रीपाठ और कई तरह से भगवान के अभिषेक कार्यक्रम हुआ। शाम को भजन कीर्तन आदि संध्याएं हुई। सुबह से ही शिव मंदिरों में भोलेनाथ के जयकारों की गूंज सुनाई दी। भक्तों ने जलाभिषेक,दुग्धाभिषेक एवं पंचामृतों से भोलेनाथ का अभिषेक किया। शिवमंदिरों को आकर्षक फूल मंडली से सजाने के साथ ही श्रृंगार किया गया।

इस अवसर पर शिवभक्तों ने व्रतोपवास भी रखा। कुंवारी कन्याओं और गृहणियों ने भगवान शिव का विभिन्न तरह अभिषेक किया। भीतरी शहर के अचलनाथ महादेव मंदिर, कायलाना सिद्धानाथ महादेव मंदिर,उम्मेद उद्यान के शिव मंदिर, रातानाडा शिवमंदिर,तारघर के पास में दूरसंचारेश्वर महादेव मंदिर आदि में सुबह से ही रूद्रीपाठ और अभिषेक जारी रहा। इधर देवस्थान विभाग ने भी श्रावण के सोमवार से शिवमंदिरों में अभिषेक कराने के लिए प्रबंध किए था।

on-the-first-monday-of-shravan-the-chants-of-har-har-mahadev-resonated-in-the-shivalayas

महामंदिर शिवबाड़ी में श्रीमाली ब्राह्मण समाज द्वारा पूरे श्रावण मास महादेव शिव का रूद्राभिषेक प्रतिदिन आयोजित किया जा रहा है। इसी के तहत श्रावण मास की चतुर्थी को रुद्राभिषेक अश्विनी कुमार व्यास इन्जिनियर एवं सोमवार को पंचमी का रूद्राभिषेक विकास प्रजापत द्वारा किया गया।रूद्राभिषेक आचार्य पंडित जयप्रकाश दवे एवं बड़ी संख्या में पंडितों द्वारा सस्वर करवाया गया। इस अवसर पर शिव आरती अध्यक्ष कैलाश श्रीमाली द्वारा स-स्वर में की गई। रूद्राभिषेक व महादेव की आरती से सभी भक्तगण आत्मविभोर हो गए व माहौल भक्तिमय हो गया।

रुद्राभिषेक में समाज के सत्यनारायण दवे, सत्यनारायण बोहरा,नन्द किशोर दवे कोषाध्यक्ष,ओमप्रकाश दवे प्रवक्ता, ओमप्रकाश व्यास, संतोष व्यास,अशोक व्यास,मनीष दवे, जीतेन्द्र दवे, युवाध्यक्ष सतीश दवे, मनोहर व्यास आदि समाज के गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

भूतेश्वर महादेव मंदिर में हुआ रुद्राभिषेक व विशेष श्रृगार

भौगीशैल पर्वतमाला की गोद में स्थित अति प्राचीन शिवालय भूतेश्वर महादेव मंदिर में सावन के प्रथम सोमवार को रुद्राभिषेक व विशेष श्रृगार किया गया। भूतनाथ महादेव मंदिर में प्रातः 4:00 बजे से ही रुद्राभिषेक का क्रम शुरू हो गया। भक्तजनों ने आज बेल रस, दुग्ध,इत्र शहद एवं जल से शिव का अभिषेक किया तथा 108 बिल्बपत्र अर्पित किए। प्रातः काल से भूतनाथ महादेव मंदिर में भक्तजन का सैलाब उमड़ रहा था।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें – http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews