केन्द्र सरकार के उपक्रम के रूप में बड़े उद्योग स्थापित करना आवश्यक-एनके जैन

केन्द्र सरकार के उपक्रम के रूप में बड़े उद्योग स्थापित करना आवश्यक-एनके जैन

जेआईए सभागार में जोधपुर- पाली-मारवाड़ इण्डस्ट्रीयल एरिया को लेकर बैठक आयोजित

जोधपुर,जेआईए सभागार में जोधपुर-पाली-मारवाड़ इण्डस्ट्रीयल एरिया (जेपीएमआईए) को लेकर बैठक आयोजित हुई।बैठक के प्रारम्भ में जेआईए अध्यक्ष एनके जैन ने उपस्थित सभी उद्यमियों और जोधपुर- पाली-मारवाड़ इण्डस्ट्रीयल एरिया (जेपीएमआईए) प्रोजेक्ट की प्रमुख कंसल्टिंग फर्म रॉयल हस्काॅनिंग के अधिकारियों को नव वर्ष की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि जोधपुर आज की तारिख में विकास की तरफ बढ रहा है, जोधपुर में और जोधपुर के आस-पास के क्षेत्रो में केन्द्र और राज्य सरकार के महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट जैसे रिफाइनरी,डीएमआई डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर,इण्डस्ट्रीयल काॅरिडोर,नये इण्डस्ट्रीयल एरिया और मेडिकल डिवाइस आदि प्रोजेक्ट पर कार्य प्रारम्भ हो गया है।

इससे निश्चित ही यहां के उद्योगों का विकास तीव्र गति से होगा। जोधपुर-पाली-मारवाड़ इण्डस्ट्रीयल एरिया (जेपीएमआईए) प्रोजेक्ट के अंतर्गत लगभग 1800 उद्योग लगेंगे इसके अतिरिक्त इन सभी प्रोजेक्ट के अंतर्गत पूरे पश्चिमी राजस्थान में लगभग 4-5 हजार उद्योग स्थापित होंगे। ये उद्योग तभी सफल हो सकते हैं जब यहां पर केन्द्र सरकार के उपक्रम के रूप मे जैसे रेल्वे, डिफेन्स या ओटोमोबाईल की कोई बडी कंपनियां आए और अपना उद्योग स्थापित करे,ताकि उनसे संबंधित लघु और मध्यम उद्योग भी यहां स्थापित हो सके,तभी यह पश्चिमी राजस्थान का सबसे बड़ा औद्योगिक हब बन सकेगा।

बैठक में जोधपुर-पाली-मारवाड़ इण्डस्ट्रीयल एरिया (जेपीएमआईए) प्रोजेक्ट की प्रमुख कंसल्टिंग फर्म रॉयल हस्काॅनिंग के निर्देशक केजी बत्रा और उनकी टीम की पारूल माथुर और निखिल देशपांडे ने उद्यमियों को बताया कि जोधपुर- पाली-मारवाड़ इण्डस्ट्रीयल एरिया औद्योगिक विकास हेतु एक महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट है। इस प्रोजेक्ट के बनने से क्षेत्र में औद्योगिक विकास एवं विस्तार को गति मिलेगी। इसके साथ ही उन्होंने जोधपुर पाली मारवाड़़ इण्डस्ट्रीयल कॉरीडोर से सम्बंधित बिंदुओं के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि जेपीएमआईए प्रोजेक्ट को पीएम गति शक्ति के तहत तीव्र गति से विकसित किया जायेगा और मल्टी मॉडल कनेक्टिवीटी के तहत नवीनतम तकनीक के साथ उद्यमियों को प्लग एण्ड प्ले की सुविधा की तर्ज पर उद्योग लगाने की सुविधा मुहैया करवायी जायेगी।

मार्च 2023 तक इस प्रोजेक्ट का कार्य प्रारम्भ हो जायेगा। रीको पाली के वरिष्ठ क्षेत्रीय प्रबंधक अनूप के. सक्सेना ने उद्यमियों से अपील की कि उद्यमी आये ओर जोधपुर-पाली- मारवाड़ इण्डस्ट्रीयल एरिया (जेपीएमआईए) प्रोजेक्ट में उद्योग स्थापित करने हेतु पूंजी निवेश करें रीको पाली द्वारा आपकी हरसंभव सहायता करने के प्रयास किये जायेंगे।
इस अवसर पर मंच का संचालन करते हुए सहसचिव अनुराग लोहिया ने कहा कि जेपीएमआईए में भूमि आवंटन की दरों को तर्कसंगत बनाने के साथ ही मेगा एग्जीबिशन सेंटर का प्रावधान किया जाना चाहिए, साथ ही सर्विस प्रोवाइडिंग इण्डस्ट्रीज के लिए भी अलग से सेक्टर होना चाहिए। जिससे हजारो की संख्या में रोजगार देने वाली यह इण्डस्ट्रीज यहां स्थापित हो सकें।

इस अवसर पर रीको जोधपुर के वरिष्ठ क्षेत्रिय प्रबंधक संजय झा,जेआईए पूर्व अध्यक्ष प्रकाश जीरावला, उपाध्यक्ष अमित मेहता, कार्यकारिणी सदस्य अंकुर अग्रवाल, दीपक जैन, राहुल धूत, राजेश जीरावला, मो. रफीक कारवा, सुपारस लोढ़ा एवं सुनील मोहनोत सहित अनेक उद्यमी उपस्थित थे।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन अभी डाउनलोड करें – http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews