भिक्षावृति में लिप्त बच्चे चाइल्ड हैल्प लाइन को सुपुर्द

भिक्षावृति में लिप्त बच्चे चाइल्ड हैल्प लाइन को सुपुर्द

जोधपुर, शहर के मुख्य चौराहों पर ट्रेफिक सिग्नल के आप-पास, सड़क़ के बीच और किनारे पर छोटे बच्चों द्वारा भिक्षावृति किए जाना आप देखते हैं। ऐसे में इन पर अंकुश लगाने के लिए पुलिस कमिश्नर जोस मोहन लगातार प्रयासरत हैं। पुलिस कमिश्नर के निर्देशों पर एडीसीपी निर्मला विश्नोई, के सुपरविजन में मानव तस्करी विरोधी युनिट प्रभारी जिला पूर्व व पश्चिम के नेतृत्व में विशेष टीम गठित की गई थी। जो अभियान चलाकर लगातार भिक्षावृति में लिप्त नाबालिग बच्चों को रेस्क्यू कर रही है।

इसी क्रम में अभय कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर से लाईव मॉनिटरिंग कर शहर में भिक्षावृति करने के स्थानों पर कड़ी निगरानी रखी जा रही है। ऐसे में पुलिस निरीक्षक किशोरसिंह व एएसआई भंवरलाल की टीम ने शुक्रवार को आखलिया चौराहा से दो बालिकाओं, शास्त्रीनगर से एक बालिका व एम्स अस्पताल के बाहर से दो बालकों को रेस्क्यू किया। इसी तरह जिला पूर्व में एएसआई शेषाराम मय टीम द्वारा सोजती गेट के सामने मुख्य सड़क़ से एक बालक तथा एक बालिका को रेस्क्यू किया गया। कुल सातों नाबालिग बच्चों को बाल कल्याण समिति के समक्ष पेश किया गया। जहां से उन्हें बाल सम्प्रेक्षण गृह व बालिका गृह भिजवाया गया।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन अभी डाउनलोड करें – http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews