block-level-nutrition-month-workshop-organized-in-mandore

मण्डोर में ब्लॉक स्तरीय पोषण माह कार्यशाला आयोजित

सरकार की योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ पहुंचाने का आह्वान

जोधपुर,पाँचवे राष्ट्रीय पोषण माह का ब्लॉक स्तरीय कार्यक्रम का आयोजन उपखंड अधिकारी(दक्षिण) अपूर्वा परवाल के मुख्य आतिथ्य में पंचायत समिति मंडोर में किया गया। मुख्य अतिथि उपखण्ड अधिकारी अपूर्वा परवाल ने महिला बाल विकास विभाग की कार्यकर्ताओं,पर्यवेक्षकों और अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि आंगनवाड़ी केंद्र तथा आंगनवाड़ी कार्यकर्ता ग्रास रूट लेवल पर कार्य कर रही आधारभूत इकाई है जो स्वास्थ्य एवं पोषण से संबंधित अति महत्त्वपूर्ण कार्य कर रही है।

परवाल ने स्वस्थ मानव समाज के विकास के लिए आंगनवाड़ी की महत्वपूर्ण भूमिका को रेखांकित करते हुए आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं से सरकार की विभिन्न योजनाओं का लाभ अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचाने को प्रेरित किया। उन्होंने “मैं हूं पोषण मटका“ द्वारा पोषण की जानकारी रचनात्मक तरीके से आम गृहिणी तक पहुंचाने के तरीके की सराहना की।

block-level-nutrition-month-workshop-organized-in-mandore

उपनिदेशक आईसीडीएस ओम चौधरी ने मंडोर ब्लॉक में हो रहे न्यूट्री गार्डन कार्यो की प्रगति की समीक्षा की तथा मंडोर के न्यूट्री गार्डन की स्थिति समूचे जिले में सबसे उत्तम होने की जानकारी दी। महिला पर्यवेक्षक सीमा शर्मा द्वारा पीएमएमवी योजना, महिला पर्यवेक्षक मधुबाला पुरोहित द्वारा इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना जानकारी दी गई और बताया कि प्रतिवर्ष सितंबर माह को पोषण माह के रूप में मनाया जाता है। इस वर्ष पोषण माह की थीम ’सशक्त नारी साक्षर बच्चा स्वस्थ भारत’ है।
इसमें बाल विकास परियोजना अधिकारी भगवान सिंह शेखावत ने प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना प्रगति रिपोर्ट प्रस्तुत की तथा बाजरे के महत्त्व पर चर्चा करते हुए पोषण के स्रोत के रूप में इसे अपने भोजन में शामिल करने पर जोर दिया। इसके साथ ही उन्होंने पोषण के दैनिक जीवन में महत्त्व एवं बालक के गर्भावस्था से लेकर 2 वर्ष की अवधि में पोषक तत्वों की आवश्यकता के संदर्भ में जनांदोलन के रूप में जागरूकता अभियान की जानकारी दी और बताया कि इसके तहत प्रतिदिन आंगनवाड़ी केंद्रों पर थीम आधारित गतिविधियां आयोजित की जा रही हैं।

इस अवसर पर ब्लॉक स्तर पर उत्कृष्ट कार्य करने वाली कार्यकर्ताओं,डाटा एंट्री ऑपरेटर,पूर्व प्राथमिक शिक्षकों को प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में कार्यकर्ताओं, किशोरी बालिकाओं द्वारा तैयार विभिन्न मोटे अनाज आधारित, स्थानीय एवं स्वास्थ्यवर्धक तथा कम बजट में तैयार होने वाले विविध पोषक व्यंजनों की प्रतियोगिता “नवोदित शेफ“आयोजित की गई। पोषण आधारित प्रश्नोत्तरी कार्यक्रम एवं चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन करने के साथ ही नई पोषाहार व्यवस्था में आने वाले पोषाहार की प्रदर्शनी लगाई गई। पोषण रंगोली बनाकर जागरूकता फैलाई गई। कार्यक्रम में खंड विकास अधिकारी,सीबीईओ,बीसीएमओ अधिकारी महिला सुपरवाइजर, एनएनएम स्टॉफ, मंत्रालयिक स्टॉफ एवं कार्यकर्ता उपस्थित थे।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें-http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews