accused-of-cheating-of-hundred-crores-got-caught-by-the-mandore-police

सौ करोड़ की ठगी का आरोपी मंडोर पुलिस के हत्थे चढ़ा

  • आरोपी बीएसएफ में कुकिंग करता था
  • सेवानिवृत दिवंगत कमाण्डर के परिवार से की थी 40 लाख की ठगी
  • कंपनी में निवेश के नाम पर ठगा

जोधपुर,शहर की मंडोर पुलिस ने शातिर ठग को जेल से प्रोडक्शन वारंट पर गिरफ्तार किया। उसने पहाडग़ंज द्वितीय क्षेत्र में रहने वाले दिवंगत बीएसएफ कमाण्डर के परिवार से 40 लाख की ठगी की थी। दिवंगत कमाण्डर की पत्नी की तरफ से 3 अगस्त को इस बारे में केस दर्ज कराया गया था। आरोपी पहले नई दिल्ली क्राइम पुलिस के हत्थे चढ़ा था। बाद में प्रतापनगर पुलिस उसे ठगी के प्रकरण में गिरफ्तार कर जोधपुर लाई थी। अब मंडोर पुलिस उससे गहन अनुसंधान कर रही है।

एएसआई ओमप्रकाश ने बताया कि शातिर ठग मूलत:गोपालसर बालेसर हाल दिल्ली निवासी ओमाराम उर्फ राम मारवाड़ी पुत्र पदमाराम को गिरफ्तार किया गया है। उसके खिलाफ नागौर जिले के गोदरास खुनखुना हाल पहाडग़ंज द्वितीय में रहने वाली भंवर कंवर पत्नी स्व. प्रतापसिंह ने रिपोर्ट दी थी। इनका आरोप है कि उनके पति प्रताप सिंह बीएसएफ में कमाण्डर थे और कुकिंग का कार्य करने वाला ओमाराम से पहचान होने पर आना जाना था। पति के सेवानिवृति के बाद ओमाराम ने संपर्क कर खुद की एक कंपनी मिताशी ट्रेड लिंक प्राइवेट लिमिटेड होना बताया और निवेश के नाम पर पहले 2 लाख 54 हजार 412 रूपए लिए थे। बाद में कंपनी के लिए रूपयों की जरूरत बताते हुए पति से 35 लाखा रूपए और लिए थे। बदले में दो चेक 30 लाख और 5 लाख के दिए थे। बाद में वह फरार हो गया।

एएसआई ओमप्रकाश ने बताया कि हाल के दिनों में ओमाराम को दिल्ली क्राइम ब्रांच की पुलिस ने कई लोगों से करोड़ों की ठगी करने पर गिरफ्तार कर जेसी करवाया था। बाद में उसे प्रतापनगर पुलिस अपने एक प्रकरण में गिरफ्तार कर लाई। पीडि़ता भंवर कंवर को इस बारे में पता लगने पर वे थाने पहुंची और केस दर्ज करवाया है। आरोपी को आज कोर्ट में पेश कर दो दिन की पुलिस अभिरक्षा में लिया गया है। आरोपी बीएसएफ में 2004 से लेकर 06 तक कुक रहा था। उसके खिलाफ अब तक 60 प्रकरण धोखाधड़ी के सामने आ चुके हैं। तकरीबन सौ करोड़ की ठगी लोगों से कर चुका है।

दूरदृष्टिन्यूज़ की एप्लिकेशन डाउनलोड करें- http://play.google.com/store/apps/details?id=com.digital.doordrishtinews